Start Your Business Today And Earn Up To 50 Thousand Profits In A Month. ( आज ही शुरू करे आप अपना बिज़नेस और कमाए महीने में 50 हजार रुपए तक मुनाफा )

क्या आप कोई ऐसा बिज़नेस शुरू करने की सोच रहे हैं जिसकी ज़रुरत और माँग कभी ख़त्म न हो? और क्या उसके लिए आपको किसी अच्छे और सफ़ल बिज़नेस आइडिया की तलाश है? अगर हाँ,तो फ़िर जूते-चप्पलों से जुड़ा बिज़नेस (footwear business) आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि जूते-चप्पल हमारी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी का एक अहम हिस्सा हैं।चाहें घर हो या दफ़्तर, स्कूल हो या कॉलेज, बाज़ार हो या खेल का मैदान, आमतौर पर हर जग़ह के लिए लोग अलग-अलग तरह के जूते-चप्पलों का उपयोग करते हैं।

Business scope की बात की जाए तो इंडिया में जितना भी footwear इस्तेमाल किया जाता है उसका लगभग 50% खपत दूसरे देशों से आयात कर किया जाता है लेकिन आज भी ग्रमीण क्षेत्रो मेंलगभग 80% लोग स्लिपर यानी हवाई चप्पल का ही इस्तेमाल करते है और यही नही फैशन के बदलते इस दौर ने शहरो में भी स्लिपर की भी अच्छी डिमांड बनी रहती है । और इसी कारण इसप्रोडक्ट को लेकर मार्किट में काफी प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है। फिर भी यदि आप प्रोडक्ट की क्वालिटी और रेट सही रखते है तो बहुत जल्द मार्किट में जगह बना सकते है।

उद्योग के लिए जगह

इस उद्योग को स्थापित करने के लिए आपको बिजली एवं परिवहन की सुविधा वाले स्थान का चयन करना होगा। इसके अतिरिक्त यदि उद्योग जनसंख्या की आबादी के करीब होगा, तो आपको उत्पादकी मार्केटिंग एवं बिक्री में सहायता मिलेगी। चूँकि स्लीपर तैयार करने में कई मशीनों की जरूरत होती है। इसलिए आपको लगभग 200 से 250 वर्ग मीटर जगह की आवश्यकता होगी।

रजिस्ट्रेशन एवं लाइसेंस

आपको अपने क्षेत्र के लोकल अथॉरिटी से चप्पल बनाने का उद्योग लगाने के लिए लाइसेंस प्राप्त करना होगा, अपने उद्योग को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSME) के अंतर्गत रजिस्टर करवानाहोगा, अपनी कंपनी के नाम से बैंक अकाउंट खुलवाना होगा, अपनी कंपनी के नाम से पैन कार्ड बनवाना होगा।

पैकेजिंग सामग्री

दोस्तों पैकेजिंग सामग्रीकी ज़रुरत आपको एकदम लास्ट में पड़ेगी जब आपकी slipper बनकर एकदम तैयार हो जाएगी| पैकेजिंग सामग्रीपर आप अपने हिसाब से खर्चा कर सकते है| आपका पैकेजिंग जितनाअच्छा होगा उतना आपका प्रोडक्ट मार्किट में बिकेगा|

चप्पल बनाने की मशीन एवं उसकी कीमत

सोल कटिंग मशीन की कीमत रुपए 90,000 से शुरू होती है

ड्रिल मशीन की कीमत लगभग रुपए 15,000

ग्राइंडर की कीमत लगभग रुपए 7 से 8 हज़ार

स्ट्रैप्स मेकिंग मशीन की कीमत लगभग रुपए 7 से 8 हज़ार

डाई (चप्पल के रंग के लिए)

आम तौर पर एक चप्पल (SLIPPER) बनाने की कुल लागत रू 25 से 35 की होती है. ये चप्पल (SLIPPER) बाज़ार में कुल रू 80- 90 के मूल्य पर बिकता है. यदि आप रोजाना 10 घंटे तक इस मशीन की सहायता से चप्पल (SLIPPER) बनाते हैं, तो दिन भर में छोटे स्तर पर 100 दर्जन और बड़े स्तर क़रीब 250 दर्जन अर्थात 3500 से 4000 स्लीपर बनाए जा सकते हैं. अतः छोटे स्तर पर इस व्यापार की सहायता से लगभग 10000 प्रति महीने और बड़े स्तर पर क़रीब 40,000 से 50,000 रूपए कमाए जा सकते हैं.      

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *